गांधी जी के अधिकार एवं कर्त्तव्यों की धारणा की व्याख्या कीजिए।

गांधी जी के अधिकार एवं कर्त्तव्यों की धारणा की व्याख्या कीजिए। गांधी जी की नैतिकता (Ethics According to Gandhi ji ) गांधी जी ने प्लेटो, अरस्तु, हाब्स, लॉक, रूसो आदि दार्शनिकों के समान विश्व को कोई राजनीतिक दर्शन प्रदान नहीं किया था । वे तो … Read more

Categories PG

गांधी जी के स्वदेशी पर विचार प्रकट कीजिए।

गांधी जी के स्वदेशी पर विचार प्रकट कीजिए।                            अथवा “स्वदेशी हमारे अन्तस्तल की भावना है, जो कि हमें सुदूर की अपेक्षा हमारे निकटतम पर्यावरण के प्रयोग के लिए सीमित करती है ।” … Read more

Categories PG

गांधीजी के सत्याग्रह पर विचारों की समीक्षा कीजिए।

गांधीजी के सत्याग्रह पर विचारों की समीक्षा कीजिए।                            अथवा सत्याग्रह के कौन-कौन से मुख्य लक्षण हैं ? निष्क्रिय प्रतिरोध तथा सत्याग्रह में क्या अंतर है ? स्पष्ट कीजिए। सत्याग्रह पर गांधीजी के … Read more

Categories PG

गांधीजी का ट्रस्टीशिप का सिद्धांत।

निम्नलिखित पर संक्षिप्त टिप्पणियां लिखिए- (1)सर्वोदय (2)गांधीजी का ट्रस्टीशिप का सिद्धांत। (1)सर्वोदय (Sarvodaya) जिस समय महात्मा गांधी दक्षिणी अफ्रीका में जोहांसबर्ग से डरबन के लिए रेलगाड़ी में यात्रा कर रहे थे, तभी मार्ग में उन्होंने जान रस्किन की ‘अनटू दिस लास्ट’ (Unto this last) नामक … Read more

Categories PG

गांधीजी का ट्रस्टीशिप का सिद्धांत।

निम्नलिखित पर संक्षिप्त टिप्पणियां लिखिए- (1)सर्वोदय (2)गांधीजी का ट्रस्टीशिप का सिद्धांत । (1)सर्वोदय (Sarvodaya) जिस समय महात्मा गांधी दक्षिणी अफ्रीका में जोहांसबर्ग से डरबन के लिए रेलगाड़ी में यात्रा कर रहे थे, तभी मार्ग में उन्होंने जान रस्किन की ‘अनटू दिस लास्ट’ (Unto this last) … Read more

Categories PG

गांधी जी के राजनीतिक दर्शन के मूल सिद्धांतों का वर्णन कीजिए।

गांधी जी के राजनीतिक दर्शन के मूल सिद्धांतों का वर्णन कीजिए।                                     अथवा महात्मा गांधी के राजनीतिक दर्शन की प्रासंगिकता की जांच कीजिए।           … Read more

Categories PG

अनुदार दल की संरचना, प्रमुख सिद्धांतों एवं नीति की विवेचना कीजिए।

अनुदार दल की संरचना, प्रमुख सिद्धांतों एवं नीति की विवेचना कीजिए। प्रस्तावना(Introduction) सन् 1932 के सुधार अधिनियम के पारित होने के उपरांत मतदाताओं की संख्या में आशातीत वृद्धि होने पर अनुदार दल के सदस्यों ने अपने दल के केंद्रीय संगठन की आवश्यकता अनुभव की तथा … Read more

अनुदारवाद से क्या तात्पर्य है ? अनुदारवाद के प्रमुख सिद्धांत।

अनुदारवाद से क्या तात्पर्य है ? अनुदारवाद के प्रमुख सिद्धांत। अनुदारवादी का अर्थ(Meaning of Conservatism) अनुदारवाद का तात्पर्य उस वाद से है जो कि उदारवाद अर्थात द्रुतगति से परिवर्तनों का विरोधी है। जेनिंग्स (Jennings) का मत है कि “जब 1812 में व्हिग (Whigs) के प्रभुत्वकाल … Read more

Categories PG

अराजकतावाद के सिद्धांत की आलोचना। तथा साम्यवाद व समाजवाद से किस प्रकार भिन्न है?

अराजकतावाद के सिद्धांत की आलोचना । तथा साम्यवाद व समाजवाद से किस प्रकार भिन्न है ? अराजकतावाद की आलोचना(Criticism of Anarchism) अराजकतावादी विचारकों के अनुसार राज्य सर्वथा अवांछनीय संस्था है। शक्ति पर आधारित होने के नाते राज्य ‘अनावश्यक बुराई’ है। व्यक्ति स्वभाव से श्रेष्ठ होता … Read more

Categories PG

फासीवाद के गुण-दोषों का आलोचनात्मक परीक्षण कीजिए।

फासीवाद के गुण-दोषों का आलोचनात्मक परीक्षण कीजिए।                                 अथवा फासीवादी विचारधारा के गुण-दोषों का वर्णन कीजिए। फासीवाद के गुण(Merits of Fascism) फासीवाद के गुण अग्रलिखित हैं- (1) शासन की कुशलता … Read more